Wednesday, 20 July 2016

ये 10 लक्षण बताएंगे कहीं आप भी डायबिटीज के मरीज तो नहीं!

डायबिटीज यानि मधुमेह ऐसी खतरनाक बीमारी है जिसकी चपेट में अगर कोई व्यक्ति आ गया तो उसके पूरे शरीर का खून धीरे-धीरे पानी में बदल जाता है। अगर हम इसे धीमी मौत कहें तो कुछ गलत नहीं होगा। पहले के समय में सिर्फ उम्रदराज लोगों में ही डायबिटीज का रोग देखा जाता था। लेकिन आज स्थिति यह है कि डायबिटीज की गिरफ्त में युवाओं की एक बड़ी तादात भी शामिल हो रही है।

खुशखबरी! वजन घटाने के ये 8 टिप्स बदल देंगे आपकी जिंदगी

मौजूदा वक्त में भारत में 4.5 करोड़ लोग डायबिटीज के मरीज हैं। वैसे तो डायबिटीज हमारे लाइफस्टाइल से जुड़ी हुई बीमारी है। लेकिन इसके होने का मुख्य कारण इंसुलिन की कमी होना है। इसमें कार्बोहाइड्रेट और ग्लूकोस का ऑक्सीकरण पूर्ण रूप से नहीं हो पाता है। डायबिटीज होने के अक्सर मुख्य कारण अधिक वजन, व्यायाम ना करना, परिवार संबंधी कारण और अधिक तनाव होते हैं।। वैसे तो इस गंभीर बीमारी के कई लक्षण हैं लेकिन हम आपको ऐसे 10 लक्षण बता रहे हैं जो इस बीमारी के शुरुआती वक्त में देखने को मिलते हैं।


इस तरह आपको घेर सकता है ये 'जानलेवा मानसून'

1 बार-बार शौच करने जाना। डायबिटीज के मरीजों को थोड़ी-थोड़ी देर में पेशाब आता है।
2 ज्यादा पानी पीने के बावजूद शरीर में पानी की कमी महसूस होना।
3 जरूरत से ज्यादा वजन कम होना या बढ़ना। डॉक्टरों के मुताबिक वजन कम होने के 2 कारण होते हैं। पहला, बार-बार वॉशरूम जाना और दूसरा, ब्लड में मौजूद कैलोरी को अब्जॉर्ब ना कर पाना।
4 बार बार भूख लगना। पेट भरा हुआ होने के बावजूद कमजोरी महसूस होना।
5 चोट लगने पर घाव का जल्दी से सही नही होना।
6 आखों का कमजोर और धुंधला दिखाई देना।
7 त्वचा में अलग-अलग तरह के रोग होना भी डायबिटीज का एक बड़ा लक्षण है।
8 मूडी होना और छोटी-छोटी बात पर गुस्सा आना।
9 आलस्य का बढ़ना और अधिक नींद आना।
10 हाथ पैरों में सूजन आना और पेट का फूलना।

अगर किसी व्यक्ति में उपरोक्त लक्षणों में कोई 4 लक्षण भी पाए जाते हैं तो वह तुरंत अपना ब्लड शुगर के स्तर की जांच कराएं। अगर शुगर पाया जाता है तो डॉक्टर की सलाह से आहार तालिका बनाएं और उसका गंभीरता से पालन करें। ध्यान रखें कि सर्दियों के मौसम में डायबिटीज आग की तरह बढ़ता है। इसलिए ऐसे संवेदनशली मौसम में सावधानी बरतें। थोड़ी सी सावधानी आपको इस बीमारी से बचा सकती है। 

0 comments:

Post a Comment